• April 10, 2020
REET Syllabus Level 2

REET Level 2 Syllabus 2020 in Hindi or English Download PDF Class 6th to 8th

Welcome to visit our web page and check Rajasthan REET Exam Pattern & Syllabus 2020. REET Level 2 Syllabus 2020 -Board of Secondary Education Rajasthan will go to organize the REER in state. Those candidates who are preparing for it, They must have to know about Syllabus and Exam pattern to know level of question papers. The Board of Secondary Education Rajasthan will conduct two papers for REET – Paper 1 for Level 1 or 2 . REET Level 2 Syllabus 2020 Candidates are waiting to check the REET Exam Syllabus (Subject Wise) Pdf are here given below download link. or keep checking our website for latest update of REET Examinations.

BSER REET Vacancy 2020 Details

Name of BoardBoard of Secondary Education (Rajasthan)
ExamREET-2020
Name of PostGrade 3rd Teacher
Total Post31,ooo* Vacancy
Exam Date2nd August 2020*
Job LocationRajasthan
Article CategoryExam Syllabus
Official Websitewww.rajeduboard.rajasthan.gov.in

📚 📖रीट लेवल 2 का संपूर्ण पाठ्यक्रम📚 📖


बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र पाठ्यक्रम

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल -।।, कुल प्रश्न : 30 कुल अंक : 30

🔴

बाल विकास : वृद्धि एवं विकास की संकल्पना, विकास के विभिन्‍न आयाम एवं सिद्धान्त, विकास को प्रभावित करने वाले तत्त्व (विशेष रूप से परिवार एवं विद्यालय के संदर्भ में) एवं अधिगम से उनका संबंध।

➤वंशक्रम एवं वातावरण की भूमिका

🔴

➤अधिगम का अर्थ एवं संकल्पना एवं इसकी प्रक्रियायें, अधिगम को प्रभावित करने वाले तत्त्व।

➤अधिगम के सिद्धान्त (व्यवहारवाद, गैस्टाल्टवाद, बान्डुरा एवं प्याजे)।

➤बालक किस प्रकार चिन्तन एवं अधिगम करते हैं? (ज्ञानसंरचनावाद उपागम, आनुभविक अधिगम, संकल्पना, मानचित्र निरूपण, अन्वेषण एवं समस्या समाधान)

➤अभिप्रेरणा एवं अधिगम के अभिप्रेत

🔴

व्यक्तिगत विभिन्‍नतायें : अर्थ, प्रकार एवं व्यक्तिगत विभिन्‍नताओं को प्रभावित करने वाले तत्त्व, जाति, लिंग, भाषा, समुदाय, जाति एवं धर्म पर आधारित व्यक्तिगत विभिन्‍नतायें।

➤व्यक्तित्व : संकल्पना, प्रकार व व्यक्तित्व को प्रभावित करने वाले तत्त्व इसका मापन

बुद्धि : संकल्पना, सिद्धान्त एवं इसका मापन, बहुआयामी बुद्धि एवं इसके अभिप्रेत

🔴

➤विविध अधिगमकर्त्ताओं की समझ : पिछड़े हुये, मानसिक रूप से पिछड़े, प्रतिभाशाली, सृजनशील, वंचित एवं अलाभान्वित, विशेष-योग्य (Specially abled)

➤अधिगम की कठिनाइयाँ

➤समायोजन की संकल्पना एवं तरीके, समायोजन में अध्यापक की भूमिका

🔴

➤शिक्षण अधिगम की प्रक्रियायें, राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा-2005 के संदर्भ में शिक्षण अधिगम की व्यूह रचनायें एवं विधियाँ।

➤आकलन, मापन एवं मूल्यांकन का अर्थ एवं उद्देश्य, समग्र एवं सतत्‌ मूल्यांकन, उपलब्धि परीक्षण का निर्माण।

➤क्रियात्मक अनुसन्धान

➤शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 अध्यापकों की भूमिका – एवं दायित्व।


हिन्दी भाषा – 1

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल – 2 कुल प्रश्न – 30, कुल अंक – 30

एक अपठित गद्यांश में से निम्नलिखित व्याकरण संबंधी प्रश्न :-

शब्द ज्ञान, तत्सम, तद्भव, देशज, विदेशी शब्द | पर्यायवाची, विलोम, एकार्थी शब्द । उपसर्ग, प्रत्यय, संधि और समास। संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, अव्यय।

एक अपठित गद्यांश में से निम्नलिखित बिंदुओं पर प्रश्न :-

रेखांकित शब्दों का अर्थ स्पष्ट करना, वचन, काल, लिंग ज्ञात करना। दिए गए शब्दों का वचन काल और लिंग बदलना।

➣वाक्य रचना, वाक्य के अंग, वाक्य के प्रकार, पदबंध, मुहावरे और लोकोक्तियाँ।

➣भाषा की शिक्षण विधि, भाषा शिक्षण के उपागम, भाषा दक्षता का विकास |

➣भाषायी कौशलों का विकास (सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना) हिंदी भाषा शिक्षण में चुनौतियाँ, शिक्षण अधिगम सामग्री, पाठ्य पुस्तक, बहु-माध्यम एवं शिक्षण के अन्य संसाधन।

➣भाषा शिक्षण में मूल्यांकन, उपलब्धि परीक्षण का निर्माण समग्र एवं सतत्‌ मूल्यांकन, उपचारात्मक शिक्षण।


हिन्दी भाषा – 2

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल – 2 कुल प्रश्न – 30, कुल अंक – 30

एक अपठित गद्यांश आधारित निम्नलिखित व्याकरण संबंधी प्रश्न :-

शब्द ज्ञान, तत्सम, तद्भव, देशज, विदेशी शब्द। उपसर्ग, प्रत्यय, संधि, समास, संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया, लिंग, वचन, काल।

एक अपठित पद्यांश पर आधारित निम्नलिखित बिंदुओं पर प्रश्न :-

भाव सौंदर्य

विचार सौंदर्य

नाद सौंदर्य

शिल्प सौंदर्य

जीवन दृष्टि

➢वाक्य रचना, वाक्य के अंग, वाक्य के भेद, पदबंध, मुहावरे, लोकोक्तियाँ। कारक चिह्‌न, अव्यय |

➢भाषा शिक्षण विधि, भाषा शिक्षण के उपागम, भाषायी दक्षता का विकास ।

➢भाषायी कौशलों का विकास (सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना) शिक्षण अधिगम सामग्री-पाठय पुस्तक, बहु-माध्यम एवं शिक्षण के अन्य संसाधन।

➢भाषा शिक्षण में मूल्यांकन, (सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना) उपलब्धि परीक्षण का निर्माण, समग्र एवं सतत्‌ मूल्यांकन, उपचारात्मक शिक्षण।


ENGLISH LANGUAGE – 1

(CLASS 6 TO 8) LEVEL – II Total Questions:30 Total Marks:30

Unseen Prose Passage

Synonyms, Antonyms, Spellings, Word-formation, One Word Substitution

Unseen Prose Passage

Parts of Speech, Tenses, Determiners, Change of Degrees

➤Framing Questions Including Wh-questions, Active and Passive Voice, Knowledge of English Sounds and Phonetic Symbols

➤Principles of Teaching English, Methods and Approaches to English Language Teaching

➤Development of Language Skills, Teaching Learning Materials: Text books, Multi-media Materials and other resources

➤Continuous and Comprehensive Evaluation, Evaluating Language Proficiency


ENGLISH LANGUAGE – 2

(CLASS 6 TO 8) LEVEL – II Total Questions:30 Total Marks:30

Unseen Prose Passage

Linking Devices, Subject-Verb Concord, Inferences

Unseen Poem

Identification of Alliteration, Simile, Metaphor Personification, Assonance,Rhyme

➤Modal Auxiliaries, Phrasal Verbs and Idioms, Literary Terms : Elegy, Sonnet, Short Story, Drama

➤Basic knowledge of English sounds and their Phonetic Transcription

➤Principles of Teaching English, Communicative Approach to English Language Teaching, Challenges of Teaching English: Language Difficulties, Errors and Disorders

➤Methods of Evaluation, Remedial Teaching



संस्कृतम्‌ भाषा-1

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल-2 प्रश्ना:- 30 प्रश्नाज्ञा :-30


संस्कृतम्‌ भाषा-2

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल-2 प्रश्ना:- 30 प्रश्नाज्ञा :-30


प्रश्नपत्र – II

सामाजिक अध्ययन (Social Study)

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल – 2 कुल प्रश्न – 60, कुल अंक – 60

भारतीय सभ्यता, संस्कृति एवं समाज

सिन्धु घाटी सभ्यता, वैदिक संस्कृति, भारतीय समाज : विशेषताएँ, परिवार, विवाह, लैंगिक संवेदनशीलता, ग्रामीण जीवन एवं शहरीकरण।

मौर्य तथा गुप्त साम्राज्य एवं गुप्तोत्तर काल

राजनीतिक इतिहास और प्रशासन, भारतीय संस्कृति के प्रति योगदान, गुप्त-काल की सांस्कृतिक उपलब्धियां, भारत (600-4000 ईस्वी.), बाहरी विश्व से भारत का सांस्कृतिक संबंध।

मध्यकाल एवं आधुनिक काल

भक्ति और सूफी आन्दोलन, मुगल-राजपूत संबंध; मुगल प्रशासन, मध्यकालीन सामाजिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक दशा, भारतीय राज्यों के प्रति ब्रिटिश नीति, 4857 की क्रांति, भारतीय अर्थव्यवस्था पर ब्रिटिश प्रभाव, पुनजागरण एवं सामाजिक सुधार, भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन (949-4947)

भारतीय संविधान एवं लोकतंत्र

उद्देशिका, मूल अधिकार एवं मूल कर्त्तव्य, धर्मनिरपेक्षता एवं सामाजिक न्याय

सरकार : गठन एवं कार्य –

संसद; राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिपद्‌: उच्चतम न्यायालय; राज्य सरकार; पंचायती राज एवं नगरीय स्व-शासन

पृथ्वी के प्रमुख घटक

स्थलमण्डल, जलमण्डल, वायुमण्डल, जैवमण्डल, चट्टानों के प्रकार, पृथ्वी की सतह पर परिवर्तनकारी आन्तरिक एवं बाहय शक्तियां।

REET Level 2 Syllabus 2020

संसाधन एवं विकास

संसाधनों के प्रकार, संसाधन संरक्षण, मृदा, खनिज और ऊर्जा संसाधन, कृषि, उद्योग, मानव संसाधन।

भारत का भूगोल एवं संसाधन

भू-आकृति प्रदेश, जलवायु, प्राकृतिक वनस्पति, वन्य जीवन, बहुउद्देशीय योजनाएँ , कृषि फसलें, उद्योग, परिवहन, जनसंख्या, जनसुविधाएँ, विकास के आर्थिक एवं सामाजिक कार्यक्रम, उपभोक्‍्ता-जागृति।

राजस्थान का भूगोल एवं संसाधन

भौतिक प्रदेश, जल-संरक्षण एवं संग्रहण, कृषि फसलें, खनिज एवं ऊर्जा संसाधन, परिवहन, उद्योग एवं जनसंख्या।

राजस्थान का इतिहास एवं संस्कृति

प्राचीन सभ्यताएँ एवं जनपद, राजस्थान में स्वतंत्रता आंदोलन, राजस्थान का एकीकरण, राजस्थान की विरासत एवं संस्कृति (किले, महल, मेले, त्योहार, लोक कलाएं, हस्त कलाएँ),राजस्थानी साहित्य, पर्यटन, विरासत का संरक्षण |

शिक्षाशास्त्रीय मुद्दे-।

सामाजिक विज्ञान /सामाजिक अध्ययन की संकल्पना एवं प्रकृति; कक्षा-कक्ष की प्रक्रियाएँ, क्रियाकलाप एवं विमर्श; सामाजिक विज्ञान /सामाजिक अध्ययन के अध्यापन की समस्याएँ; समालोचनात्मक चिन्तन का विकास;

शिक्षाशास्त्रीय मुद्दे-॥

पृच्छा /आनुभाविक साक्ष्य; शिक्षण अधिगम सामग्री एवं सहायक सामग्री; प्रायोजना कार्य; मूल्यांकन


गणित पाठ्यक्रम (Mathematics Syllabus)

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल – 2 कुल प्रश्न – 30, कुल अंक – 30

🔵

घातांक :समान आधार की घातीय संख्याओं का गुणा तथा भाग, घातांक नियम।

बीजीय व्यंजक : बीजीय व्यंजकों का योग, व्यवकलन, गुणा एवं भाग, सर्वसमिकाए

गुणनखण्ड : सरल बीजीय व्यंजकों के गुणनखण्ड।

समीकरण : सरल एकघातीय समीकरण ।

➢वर्ग और वर्गमूल

➢घन और घनमूल

🔵

ब्याज : सरल ब्याज, चक्रवृद्धि ब्याज, लाभ – हानि,

अनुपात एवं समानुपात : समानुपाती भागों में विभाजन, साझा।

➢प्रतिशतता, जन्म व मृत्यु दर, जनसंख्या वृद्धि, हास।

🔵

रेखा तथा कोण : रेखाखण्ड, सरल एवं वक्र रेखाएं, कोणों के प्रकार,।

समतलीय आकृतियाँ : त्रिभुज, त्रिभुजों की सर्वांगसमता, चतुर्भुज तथा वृत्त

समतलीय आकृतियों का क्षेत्रफल : आयत, त्रिभुज,समान्तर चतुर्भुज एवं समलम्ब चतुर्भुज |

पृष्ठीय क्षेत्रल तथा आयतन- घन, घनाभ एवं लम्बवृतीय बेलन

🔵

सांख्यिकी : आंकड़ों का संग्रह एवं वर्गीकरण, बारम्बारता बंटन सारिणी, मिलान चिह्न, स्तम्भ (बार) लेखाचित्र एवं आयत

➢लेखाचित्र, वृत्तीय ग्राफ (पाई चित्र) ।

➢लेखाचित्र (ग्राफ) : विभिन्‍न प्रकार के लेखाचित्र।

🔵

➢गणित की प्रकृति एवं तर्क शक्ति

➢पाठ्यक्रम में गणित की महत्ता

➢गणित की भाषा

➢सामुदायिक गणित

🔵

➢मूल्याकंन

➢उपचारात्मक शिक्षण

➢शिक्षण की समस्‍यायें


REET Level 2 Syllabus


विज्ञान पाठ्यक्रम (Science Syllabus)

(कक्षा 6 से 8 तक) लेवल – 2 कुल प्रश्न – 30, कुल अंक – 30

🔵

सूक्ष्म जीवः जीवाणु, वायरस, कवक ; (लाभकारी एवं अलाभकारी)

सजीव- पौधे के विभिन्‍न भाग, पादपों में पोषण, श्वसन एवं उत्सर्जन, पादप और जंतु कोशिकाओं की संरचना और कार्य, कोशिका विभाजन।

मानव शरीर एवं स्वास्थ्य – सूक्ष्म जीवों से फैलने वाले रोग (क्षय रोग, खसरा, डिप्थीरिया, हैजा, टाइफाइड), रोगों से बचाव के उपाय; मानव शरीर के विभिन्‍न तंत्र; संक्रामक रोग (फैलने के कारण और बचाव) ; भोजन के प्रमुख अवयव और इनकी कमी से होने वाले रोग, संतुलित भोजन।

जन्तु प्रजनन एवं किशोरावस्था : जनन की विधियाँ : लैगिंक एवं अलैगिंक, किशोरावस्था एवं यौवनारम्भ : शारिरीक परिरवतन, जनन में हार्मोन्स की भूमिका, जननात्मक स्वास्थ्य
🔵

बल एवं गति – बलों के प्रकार (पेशीय बल, घर्षण बल, गुरूत्व बल, चुम्बकीय बल, स्थिर वैद्युत बल, आदि) ;दाब गति के प्रकार (रेखीय, यदृच्छ, वृत्ताकार, कम्पन गति, आवर्त गति), चाल। ऊर्जा के प्रकार, ऊर्जा के परम्परागत तथा वैकल्पिक स्रोत, ऊर्जा संरक्षण।

ऊष्मा – ऊष्मा के उपयोग, ऊष्मा का आदान-प्रदान, ताप की अवधारणा, गलन, क्वथन एवं वाष्पन, संघनन एवं उर्घ्वपपातन, दैनिक जीवन में ऊष्मीय प्रसार के उदाहरण, ऊष्मा के कुचालक एवं सुचालक, ऊष्मा की संचरण विधियां (चालन, संवहन और विकिरण)।

प्रकाश एवं ध्वनि – प्रकाश के स्रोत, छाया का बनना, प्रकाश का परावर्तन, समतल दर्पण में प्रतिबिम्ब बनना, ध्वनि के प्रकार, ध्वनि संचरण, ध्वनि के अभिलक्षण, प्रतिध्वनि, शोर और शोर कम करने के उपाय।
🔵

REET Level 2 Syllabus 2020

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी – दैनिक जीवन में विज्ञान का महत्व, संश्लेषिक रेशे तथा प्लास्टिक – संश्लेषिक रेशों के गुणधर्म एवं प्रकार, प्लास्टिक एवं इसके गुणघर्म, डिटर्जेट, सीमेंट आदि; चिकित्सा के क्षेत्र में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी (एक्स किरण, सी.टी. स्कैन, शल्य चिकित्सा, अल्ट्रासाउण्ड तथा लेजर किरणें), दूरसंचार के क्षेत्र में- फैक्स मशीन, कम्प्यूटर, इन्टरनेट, ई-मेल तथा वेबसाइट की सामान्य जानकारी।

सौर मण्डल – चन्द्रमा एवं तारे, सौर परिवास्-सूर्य एवं ग्रह, धूमकेतु, तारा मण्डल।

🔵

पदार्थ की संरचना – परमाणु एवं अणु, परमाणु की संरचना; तत्व, यौगिक और मिश्रण; पदार्थ की अशुद्धियों का पृथक्करण; तत्वों के प्रतीक, यौगिकों के रासायनिक सूत्र तथा रासायनिक समीकरण।

रासायनिक पदार्थ – ऑक्साइड, हरित गृह प्रभाव और वैश्विक तापन, हाइड्रोकार्बन (सामान्य जानकारी), अम्ल, क्षार और लवण, ऑक्सीजन गैस, नाइट्रोजन गैस, नाइट्रोजन चक्र, कोयला, पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस।

🔵

विज्ञान की संरचना एवं प्रकृति

प्राकृतिक विज्ञान : लक्ष्य एवं उद्देश्य

विज्ञान को समझना

विज्ञान की शिक्षण विधियां

🔵

नवाचार

पाठय सामग्री / सहायक सामग्री

मूल्यांकन

समस्याएं

उपचारात्मक शिक्षण


Download Syllabus in PDF

Level 1Level 2
Child Development and PedagogyChild Development and Pedagogy
Environment StudiesLanguage 1
Language 1Language 2
Language 2Mathematics and Science
MathematicsSocial Studies

Some Important Links


More Topics

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments