2020 भारत में लॉकडाउन कब से कब तक?

यदि आप जानना चाहते हो की सन् 2020 में भारत में कोरोना वायरस की वजह से भारत में लॉकडाउन कितनी बार और कब से कब तक लगाया गया तो आपने सही जगह क्लिक किया है हम आपको बताएँगे कि भारत में कौन सा लॉकडाउन कब से कब तक लगाया गया एवं उससे संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी भी देंगे-

लॉकडाउन क्या होता है?

लॉकडाउन एक आपातकालीन प्रोटोकॉल है जो लोगों को जहां रह रहे हैं या जिस स्थान पर वे वर्तमान में है उन्हें उस स्थान को छोड़ने से रोकता है। लॉकडाउन का उपयोग किसी सुविधा के अंदर या उदाहरण के लिए, एक कंप्यूटिंग सिस्टम, किसी खतरे या अन्य बाहरी घटना से लोगों की सुरक्षा के लिए किया जा सकता है और किसी इमारत या दिए गए क्षेत्र से बाहर निकलें या प्रवेश को वर्जित कर दिया जाता है। आमतौर पर आवश्यक आपूर्ति के लिए अनुमति देता है। सभी गैर-जरूरी गतिविधियां पूरी अवधि के लिए बंद रहती हैं।

पहला लॉकडाउन कब से कब तक?

कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार 24 मार्च रात्रि 8:00 बजे ‘राष्ट्र के नाम अपने संबोधन’ में पूरे देश को लॉकडाउन करने का ऐलान किया था और 25 मार्च रात्रि 12:00 बजे से लॉकडाउन पूरे देश में 21 दिनों के लिए लागू हुआ था


भारत में लॉकडाउन प्रथम के महत्वपूर्ण तथ्य:-

लॉकडाउन प्रथम लॉकडाउन
कारण कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए
कब से 25 मार्च, 2020 रात्रि 12:00 बजे से
कब तक 14 अप्रैल, 2020
पाबंदियाँ घरों से बाहर निकलने पर पूर्ण पाबंदी, सभी दफ्तर सार्वजनिक स्थान जैसे मॉल, हॉल, जिम, स्पा, स्पोर्ट्स क्लब बंद रहेंगे| सभी रेस्त्रां, दुकानें बंद रहेगी| शिक्षण संस्थान, ट्रेनिंग, रिसर्च, कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे|धार्मिक और पूजा स्थल बंद रहेंगे|  अंतिम संस्कार में केवल 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकते| 
छूट अस्पताल, दवा और अन्य चिकित्सा आपूर्तियों से संबंधित सेवाएं राशन की दुकानें एवं अन्य खाद्य सामग्रियों की आपूर्ति दवा, रसोई के सामान एवं अन्य जरूरी वस्तुओं की होम डिलीवरी वाली ई-कॉमर्स सेवाएं प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, इंटरनेट एवं फोन सेवाएं बैंक, एटीएम, इंश्योरेंस ऑफिस, डाकघर की सेवाएं रक्षा, सुरक्षा से जुड़े कार्यबल जैसे पुलिस, सेना, अर्धसैनिक बल पेट्रोलियम, सीएनजी, पीएनजी, एलपीजी जैसी सुविधाएं आपदा प्रबंधन एवं आपातकालीन सेवाएं
लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर सजा आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत लागू इन पाबंदियों को नहीं मानने पर 1 साल की सजा और जुर्माना भी हो सकता है

प्रधानमंत्री की चेतावनी : यह कर्फ्यू जैसा ही है नहीं संभले तो देश 21 वर्ष पीछे चला जाएगा



दूसरा लॉकडाउन कब से कब तक? | लॉकडाउन पार्ट-2 | लॉकडाउन 2.0

21 दिन का लोक डाउन 14 अप्रैल को समाप्त होने वाला था से पहले सुबह 10:00 बजे ‘देश के नाम संबोधन‘ में पीएम नरेंद्र मोदी ने लोक डाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया


लॉकडाउन दूसरा लॉकडाउन |लॉकडाउन पार्ट-2 | लॉकडाउन 2.0
कब से15 अप्रैल, 2020
कब तक3 मई, 2020

सप्तपदी है जीत का मार्ग:- पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन के अंत में कोरोना से लड़ाई के लिए लोगों से सात वचन मांगे उन्होंने इन्हें सप्तपदी की संज्ञा दी मोदी ने निम्नलिखित सात वचन मांगे :-

पहला : घर के बुजुर्गों का विशेष यान रखें। जिन्हें पुरानी बीमारी हो उनकी हमें अतिरिक्त देखभाल रखनी है।

दूसरा : लॉकडाउन और फजिकल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें। घर मे बने फेसकवर या मास्क का अनिवार्य प्रयोग करें।

तीसरा : अपनी इम्युनिटी बढ़ाने क लिए आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें। गर्म पानी और काढ़ा का निरंतर सेवन करते रहें।

चौथा : कोरोना का प्रसार रोकने में मदद के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप डाउनलोड करें। अन्य को भी यह एप डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें।

पांचवां : जितना संभव हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें। उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें।

छठा : आप अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में अपने साथ काम कर रहे लोगों के प्रति संवेदना रखें। किसी को नौकरी से न निकाले।

सातवा : कोरोना योद्धाओं डॉक्टर, नर्स, सफाई कर्मी, पुलिसकर्मी आदि का पूरा सम्मान करें।


कोरोना अपडटेस :- Official website


तीसरा लॉकडाउन कब से कब तक? | लॉकडाउन पार्ट-3 | लॉकडाउन 3.0

केंद्र सरकार ने 3 मई को समाप्त हो रहे लोग डाउन की मौजूदा अवधि को तमाम छूटों के साथ दो हफ्तों के लिए बढ़ा दिया


लॉकडाउनतीसरा लॉकडाउन | लॉकडाउन पार्ट-3 | लॉकडाउन 3.0
कब से4 मई, 2020
कब तक17 मई, 2020

पूरा देश चार जोन में बांटा- ग्रीन, ऑरेंज, रेड और कंटेनमेंट जोन


ग्रीन जोन 319 जिले

  • आधी सवारियों के साथ चलेगी 50 में से
  • बाइक पर दो लोग बैठ सकेंगे
  • बस सिर्फ ग्रीन जोन से ग्रीन जोन तक ही रहेगी
  • 6 फिट दूरी का पालन करना होगा
  • फैक्ट्रियां, दुकाने खुल सकेगी

ऑरेंज जोन 284 जिलें

  • चार पहिए वाले वाहन में ड्राइवर के अलावा दो सवारी को बैठने की छूट
  • टैक्सी-कैब व निजी कार को अनुमति
  • शराब की दुकानें सिर्फ ग्रीन और ऑरेंज जोन में
  • दोपहिया वाहनों पर पीछे भी सवारी बैठने की छूट

रेड जोन 130 जिले

  • नाई को छोड़कर सभी सेल्फ एंप्लॉयड लोक सेवा दे सकेंगे
  • चार पहिया वाहन में ड्राइवर के अलावा एक सवारी बैठ सकेगी
  • दो पहिया वाहन पर सिर्फ एक ही व्यक्ति
  • दवा मेडिकल उपकरण और इसके कच्चे वाला दी बनाने वाली इकाइयां पर छूट रहेगी
  • ई-कॉमर्स कि छूट सिर्फ आवश्यक वस्तु के लिए होगी
  • फूड प्रोसेसिंग और ईट भट्टों को छूट रहेगी

कंटेनमेंट जोन

  • सभी गतिविधियों पर रोक रहेगी

क्या है कंटेनमेंट जोन:- रेड, ऑरेंज जोन के यह ऐसे इलाके हैं जहां संक्रमण सबसे तेजी से फैल रहा होगा

तो दोस्तों हमने जाना की भारत में कोरोना वायरस की वजह से लगने वाले भारत में लॉकडाउन कब-कब लगाया गया और उससे संबंधित महत्वपूर्ण तथ्यों को भी जाना और हो सकता है लॉकडाउन 4 भी लगा दिया जाए यदि ऐसा होगा तो उसका अपडेट जल्द ही कर दिया जाएगा, हमें आशा है की आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा तो आप इस जानकारी को अपने दोस्तों वह परिजनों के साथ शेयर करें धन्यवाद |

About

You may also like...

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments