राजस्थान का सामानय परिचय

राजस्थान का सामान्य परिणाम इस ब्लॉग के माध्यम से हम राजस्थान के सामान्य परिचय को जानेंगे जिसके अंतर्गत हम ‘मुस्लिम आक्रमणकारियों द्वारा दिए गए राज्य के शहरों के नाम’ ‘शहरों के उपनाम’ ‘राज्य के शहरों व स्थानों के प्राचीन नाम’ ‘राज्य के प्रमुख साहित्यकारों के नाम उपनाम’ ‘राज्य की प्रसिद्ध महिलाओं के उपनाम’ ‘प्रमुख व्यक्तियों के उपनाम’ राजस्थान के जिलो तथा नगरों के उपनाम’ ‘राजस्थान के मुख्य संगीत संगीतयज्ञों के उपनाम’ ‘प्रमुख क्रांतिकारियों के नाम और राजस्थान के खिलाड़ियों के उपनामों को जानेंगे

राजस्थान का सामान्य परिचय

  • राजपूताना प्रान्त के लिए वर्तमान नामकरण राजस्थान किसने दिया था- कर्नल जेम्स टॉड ने 1829 में ( एनाल्स एण्ड एन्टीक्यूटीज ऑफ राजस्थान में )
  • राजस्थान प्रान्त का सर्वप्रथम राजपूताना नाम किस विद्वान ने व कब प्रयोग में लिया- जॉर्ज थॉमस ने 1800 में दा मिल्ट्री मेमोरियर्स ऑफ मिस्टर जॉर्ज थॉमस ( लेखक विलियम फ्रेंकलिन )
  • राजस्थान का अंक्षाशीय एवं देशान्तरीय विस्तार- 23 ° 3 से 30°12 ( उत्तरी अंक्षाश ) , 69 ° 30 से 78°17 ( पूर्वी देशांतर )
  • राज. की कुल ग्लोबीय स्थिति- 7°9 ( 23 ° 3-30 ° 12 ) उत्तरी अंक्षाश तथा 8 ° 47 ( 69 ° 30-78°17 ) पूर्वी देशान्तर
  • राजस्थान का अधिकांश भाग स्थित है- कर्क रेखा ( 23 उत्तरी अक्षाश ) के उत्तर में
  • राजस्थान का कुल क्षेत्रफल -3,42,239 वर्ग किमी .
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान का देश में स्थान है- प्रथम
  • राजस्थान का क्षेत्रफल भारत के क्षेत्रफल का कितना प्रतिशत है 10.41 %
  • राजस्थान की आकृति – विषमकोणीय चतुर्भुज
  • राज. का उत्तरी बिंन्दु- श्रीगंगानगर का कोणा गांव ( 30 ° 12 उत्तरी अंक्षाश पर स्थित )
  • राजस्थान का दक्षिणी बिन्दु- बाँसवाड़ा का बोरकुण्ड गाँव ( 23 ° 3 उत्तरी अक्षाश पर स्थित )
  • राजस्थान की उत्तर में दक्षिण की लम्बाई -826 किमी .
  • राज. की पूर्व से पश्चिम की लम्बाई -869 किमी .
  • कर्क रेखा के सर्वाधिक नजदीक स्थित शहर – बाँसवाड़ा
  • राजस्थान राज्य में सूर्य की सर्वाधिक सीधी किरणे पड़ेगी- श्रीगंगानगर
  • राज. का पश्चिमी बिंदु- जैसलमेर के सम तहसील का कटरा गांव ( 69 ° 30 पूर्वी देशान्तर पर स्थित )
  • राजस्थान का पूर्वी बिंदु- धौलपुर के राजाखेड़ा तहसील का सिलान गाँव ( 78917 पूर्वी देशान्तर पर स्थित )
  • अन्तर्राष्ट्रीय सीमा के सबसे नजदीक स्थित बिंदु – जैसलमेर
  • अन्तर्राष्ट्रीय सीमा से सबसे दुरस्थ स्थित बिंदु- धौलपुर
  • राज्य में सर्वप्रथम सूर्योदय एवं सूर्यास्त दिखाई देगा- धौलपुर ( सिलान गांव )
  • राजस्थान की स्थलीय सीमा की कुल लम्बाई -5920 किमी .
  • राजस्थान एवं पाकिस्तान के मध्य स्थित अंतर्राष्ट्रीय सीमा कहलाती है- रेडक्लिफरेखा ( 1070 किमी . )
  • अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर राजस्थान में उत्तर में स्थित शहर- हिंदमलकोट ( श्रीगंगानगर )
  • अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर राजस्थान के दक्षिण में स्थित शहर – बाखासर ( शाहगढ़ , बाड़मेर )
  • राज्य का जिला जो पाकिस्तान के साथ सर्वाधिक लम्बी अंतर्राष्ट्रीय सीमा बनाता है- जैसलमेर ( 464 किमी )
  • अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर स्थित राजस्थान के जिले- चार- श्रीगंगानगर ( 210 किमी ) , बीकानेर ( 168 किमी ) , जैसलमेर ( 464 किमी ) , बाड़मेर ( 228 किमी )
  • सीमावर्ती चार जिलो में सर्वाधिक नजदीक एवं सर्वाधिक दूर स्थित जिला- क्रमशः श्रीगंगानगर एवं बीकानेर
  • राजस्थान की सीमा से लगने वाला पाकिस्तान का सबसे बडा जिला बहावपुर
  • राजस्थान अन्य राज्यों के साथ अन्तर्राज्कीय सीमा बनाते है- पाँच – पंजाब ( उत्तर ) , हरियाणा ( उत्तर पूर्व ) , उत्तरप्रदेश , ( पूर्व ) , मध्य प्रदेश ( दक्षिण – पूर्व में ) , गुजरात ( दक्षिण )
  • राज. से सर्वाधिक लम्बी अन्तर्राज्कीय सीमा बनाने वाला राज्य मध्य प्रदेश ( 1600 किमी )
  • राजस्थान के साथ सबसे छोटी अन्तर्राज्कीय सीमा बनाने वाला राज्य पंजाब ( 89 किमी )
  • राजस्थान की सर्वाधिक लम्बी अन्तर्राज्कीय सीमा बनाने वाला जिला झालावाड़
  • राज. की सबसे छोटी अन्तर्राज्कीय सीमा बनाने वाला जिला बाड़मेर –
  • राजस्थान के वे जिले जो अन्तर्राष्ट्रीय एवं अंतर्राज्कीय दोनों सीमा बनाते है- दो – गंगानगर- ( पाकिस्तान एवं पंजाब के साथ ) बाड़मेर- ( पाकिस्तान एवं गुजरात के साथ )
  • अन्तर्राष्ट्रीय सीमावर्ती जिले- चार- गंगानगर , बीकानेर , जैसलमेर , व बाड़मेर
  • अन्तराज्कीय सीमावर्ती जिले -23 गंगानगर , हनुमानगढ़ , झुन्झनु , चुरू , सीकर , जयपुर , अलवर , भरतपुर , धौलपुर , करौली , सवाई माधोपुर , बारा , झालावाड़ , कोटा , भीलवाड़ा , चित्तौड़गढ़ , प्रतापगढ़ , बासवाड़ा , डूंगरपुर , उदयपुर , सिरोही , जालौर , बाड़मेर
  • राजस्थान के उभयनिष्ठ जिले अर्थात् वे जिले जो दो राज्यों के साथ अन्तर्राज्कीय सीमा बनाते हैं – चार (हनुमानगढ़- पंजाब , हरियाणा) (भरतपुर – हरियाणा , उत्तर प्रदेश) (धौलपुर – उत्तरप्रदेश , मध्यप्रदेश) (बाँसवाड़ा- मध्यप्रदेश , गुजरात)
  • राजस्थान के अन्तर्वती जिले अर्थात् वे जिले जो किसी अन्य राष्ट्र अथवा राज्य से सीमा नहीं बनाते है- आठ (पाली , जोधपुर , नागौर , अजमेर , दौसा , टोंक , बूंदी , राजसमन्द)
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान का सबसे बड़ा जिला- जैसलमेर ( 38401 वर्ग किमी )
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान का सबसे छोटा जिला- धौलपुर ( 3033 वर्ग किमी )
  • जनसंख्या के आधार पर राजस्थान का सबसे बड़ा जिला- जयपुर ( 66.63 लाख )
  • जनसंख्या के आधार पर राजस्थान का सबसे छोटा जिला – जैसलमेर ( 6.72 लाख )
  • राज्य का सबसे बड़ा एवं सबसे छोटा नगर- क्रमश : बड़ा नगर जयपुर , छोटा नगर – बोरखेडा ( बाँसवाड़ा )
  • राज्य का सबसे उच्चतम एवं निम्नतम बिंदु- क्रमशः गुरुशिख ( 1722 मी . ) , निम्नतम बिंदु सांभर झील
  • राजस्थान का सबसे नजदीक बन्दरगाह – कांडला ( गुजरात )
  • राजस्थान के पूर्ण एकीकरण के समय जिलो की संख्या -26 (1 नवम्बर 1956 को )
  • राज. स्थापना दिवस -30 मार्च
  • राजस्थान कितने भारतीय राज्यो की सीमा मिलती है – पाँच
  • राजस्थान के भौगोलिक क्षेत्र को राजस्थान नाम दिया गया -26 जनवरी 1950 को
  • राज. में जिले व संभाग का सही युग्म है – 33-7

राजस्थान के नवगठित जिले

क्र.स.नामसमय
27 वांधौलपुर15 अप्रैल 1982
28 वांबारां10 अप्रैल 1991
29 वांदौसा10 अप्रैल 1991
30 वांराजसमंद10 अप्रैल 1991
31 वांहनुमानगढ़12 जुलाई 1994
32 वांकरौली19 जुलाई 1997
33 वांप्रतापगढ़26 जनवरी 2008

मुस्लिम आक्रमणकारियों द्वारा दिये राज्य के शहरों के नाम

वर्तमान शहरदिया गया नामआक्रमणकारी
1. चित्तौड़गढ़खिज्राबादअलाउद्दीन खिलजी
2. जालौर जलालाबादअलाउद्दीन खिलजी
3. सिवाणाखैराबादअलाउद्दीन खिलजी
4. उदयपुरमुहम्मदाबादअकबर
5. आमेर मोमिनाबादमुहम्मदशाह
6. बयाना मुहम्मद कोटकुतुबदीन ऐबक
7. शाहाबाद ( बारा )सलीमाबादशेरशाह सूरी
8. बूंदीफरूर्खाबादफरूखिसियर
9. सांचौरमहमूदाबादमहमूद बेगड़ा
10. गागरोणमुस्तुफाबादमुहम्मद खिलजी
11. नरैणा मुस्तफासरमुहम्मद शाह
12.तिमनगढ ( करौली )इस्लामाबादमुहम्मद गौरी

राजस्थान के शहरों के उपनाम

  • राजस्थान का अजन्ता ऐलोरा – कोलवी गुफाएँ ( झालावाड़ )
  • बागों का घर – राजगढ ( अलवर )
  • सूरतगढ ( गंगानगर ) – राजस्थान का आधुनिक विकास तीर्थ
  • सिलिसेढ़ ( अलवर ) – राजस्थान का नन्द कानन
  • रेगिस्तान का जल महल – बाटाडू कुआँ ( बाड़मेर )
  • थानेश्वर ( भीलवाड़ा ) – लघु पुष्कर , मेवाड़ का पुष्कर
  • नाथद्वारा – राजसमंद कामथुरा
  • मातृकुण्डिया ( चित्तौड़गढ ) – राजस्थान का हरिद्वार
  • आलम जी का धोरा – घोड़ों का तीर्थस्थल
  • गुढामालानी ( बाड़मेर ) – घोडों का स्वर्ग
  • पोकरण ( जैसलमेर ) – राजस्थान का आधुनिक गौरव
  • हल्दीघाटी – राजस्थान की थर्मोपल्ली , राजस्थान की रक्तभूमि ( टॉड )
  • चंदन नलकूप ( जैसलमेर ) – थार का घड़ा
  • साल्ट सीटी – सांभर ( जयपुर )
  • जसवंत थड़ा ( जोधपुर ) – राजस्थान का ताजमहल
  • झालावाड़ – राजस्थान का नागपुर,
  • रैड़ ( टोंक ) – प्राचीन राजस्थान का टाटा नगर

राजस्थान के शहरों व स्थानों के प्राचीन नाम

  1. करौली – गोपालपाल
  2. ऊपरमाल – विजयावल्ली
  3. सुजानगढ़ – हरबू जीरो कोट
  4. भीनमाल – श्रीमाल
  5. डीडवाना – आभानगरी
  6. शेरगढ – बरसाना
  7. गोपाल पुरा ( चुरू ) – द्रोणपुर
  8. नागौर – अहिछत्रपुर
  9. ओसिया – नबनेरी
  10. चाकसू – चम्पावती
  11. अलवर – आलौर
  12. जावर ( उदयपुर ) – योगिनीपट्टन
  13. बयाना – श्रीपंथ
  14. जालौर – जाबालिपुर
  15. बूंदी – वृन्दावती
  16. जैसलमेर – मांड़ , वल्ल प्रदेश
  17. डूंगरपुर व बाँसवाड़ा – बागड / वागड
  18. बैराठ – विराटनगर
  19. सिरोही – आबूंद प्रदेश
  20. जोधपुर – मारवाड़
  21. टोडारायसिंह ( टोंक ) – तक्षकपुर
  22. सांचौर ( जालौर ) – सत्यपुर
  23. कोटा – नन्दग्राम
  24. ईसरदा ( सवाई माधोपुर ) – ईश्वरद्वार
  25. झालारापाटन – ब्रजनगर
  26. डीग – दीर्घवती
  27. जसनगर ( नागौर ) – किष्किकन्या
  28. झालरापाटन – बजनगर
  29. भाण्डारेज ( दौसा ) – भद्रावती
  30. सांभर – शाकम्भरी
  31. हनुमानगढ़ – भटनेर
  32. बीकानेर – जांगल प्रदेश
  33. जयपुर – ढूँढाड़
  34. अजमेर – अजयमेरू
  35. प्रतापगढ़ – कांठल
  36. खाचेड़ी ( अलवर ) – सांचेड़ी
  37. जमुवायरामगढ – मांच
  38. मेड़ता – मान्धातश्पुर
  39. केशवरायपाटन – रन्तिदेव पाटन
  40. शिवाड़ – शिवालय
  41. रामदेवरा – रूणेचा
  42. श्रीगंगानगर – योद्धेय

राजस्थान के प्रमख साहित्यकारों के उपनाम

  • विजयदान देथा – बिज्जी
  • कुमारी चूड़ावत – रानीजी
  • सूर्यमल्ल मिश्रण – वीर रसावतार ( हाड़ोती का एकमात्र कवि )
  • शिव चंद भरतिया – राजस्थान का भारतेन्दु
  • मुहणौत नैणसी – राजपूताने का अबुल फजल
  • सुन्दरदास – दूसरा शंकराचार्य
  • पंड़ित झाबरमल शर्मा – पत्रकारिता का भीष्म पितामह

राजस्थान की प्रसिद्ध महिलाओं के उपनामा

  • नीलू – राजस्थान की श्रीदेवी
  • सीमा मिश्रा – राजस्थान की लता
  • मीरा बाई – राजस्थान की राधा
  • गवरी बाई – मीरा बाई का अवतार , वागड़ की मीरा , राजस्थान की मरू कोकिला
  • मंजू राजपाल – आदिवासियों की बाई जी
  • बणी – ठणी – भारत की मोनालिसा ( फैयाज अली और एरिड डिक्सनद्वारा )
  • रीमा दत्ता राजस्थान की जलपरी
  • अल्लाह जिलाई बाई – मांड़का अमर स्वर , मांड गायिका
  • गुलाब राय – मारवाड़ की नूरजहाँ
  • राजकुमारी राज्य श्री – अचूक निशानेबाज
  • मांगी बाई – लोक सुरों की शहनाई
  • वसुन्धरा राजे सिंधिया – आयरन लेड़ी , महारानी
  • माला सुखमाल – स्ट्रांग वूमैन
  • मंजरी भार्गव – माहिर गोताखोर
  • गुलाम नून – करी किंग
  • महारानी गायत्री देवी – राजमाता
  • मांगी बाई – तेरह मंजीरों की ताल नृत्यांगना
  • विमला कौशिक – पानी वाली बहन जी
  • सृष्टि टंडन सिल्वर क्वीन
  • गोलमा देवी – राजस्थान की राबड़ी देवी

राजस्थान के प्रमुख व्यक्तियों के उपनाम

  • जानकी लाल भांड – मंकी मैन , बहुरूपिया कला के जनक
  • राजेन्द्र सिंह – वाटर मैन , पानी वाले बाबा
  • अशोक टाक – कैमल मैन
  • किशनलाल सैनी – रेल बाबा
  • ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती – गरीब नवाज
  • कर्नल जैम्स टॉड़ – राजस्थान के इतिहास लेखन का पितामह , घोड़े वाला बाबा
  • संत दुर्लभ जी – राजस्थान का नृसिंह
  • कन्हैया लाल सेठिया – राजस्थान साहित्य के रत्न , राजस्थानी भाषा के भीष्म पितामह
  • भैरूसिंह शेखावत – राजस्थान की राजनीति का चाणक्य / बाबोसा
  • घनश्यामदास बिड़ला – उद्योग जगत का पितामह
  • डॉ. दौलत सिंह कोठारी – विज्ञान की अनमोल दौलत
  • देवीलाल सांभर – लोक कलाओं के कमल पुष्प
  • सीताराम लालस – राजस्थानी जुबान की मसाल , राजस्थानी शब्दकोष के जनक
  • स्वामी केशवानंद – शिक्षा संत

Online Test के लिए यहां click करें

About

You may also like...

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments